डाइट

लीवर का ख़्याल रखने के लिए आहार में शामिल करें ये 10 चीजें

लीवर हमारे शरीर का बहुत महत्वपूर्ण और आवश्यक अंग है। लीवर हमारे शरीर में भोजन पचाने से लेकर पित्त बनाने तक का काम करता है। लिवर शरीर को संक्रमण से लड़ने, ब्लड शुगर को कंट्रोल करने, शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालने, फैट को कम करने और कार्बोहाइड्रेट को स्टोर करने के साथ-साथ प्रोटीन बनाने में भी मदद करता है। लीवर पूरे शरीर को डिटॉक्स करता है। लीवर मजबूत होने पर ही हमारा शरीर पूरी तरह स्वस्थ रह सकता है। अगर आप भी अपना लीवर मजबूत बनाना चाहते हैं तो अपनी डाइट में रोजाना इन चीजों को जरूर शामिल करें-

1. लहसुन-

लहसुन में एलिसिन कंपाउंड होता है, जो शरीर को डिटॉक्स करने में सहायता करता है। लहसुन में एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी बायोमेट्रिक गुण भी होते हैं। यह लिवर को साफ और मजबूत बनाते हैं।

2. गाजर-

गाजर में एंटीऑक्सीडेंट गुण होने के साथ-साथ इसमें जरूरी विटामिन, मिनरल्स और डाइटरी फाइबर भी पाए जाते हैं। एक गिलास गाजर का जूस पीने से लिवर से फैटी एसिड और टॉक्सिक पदार्थ की मात्रा कम हो जाती है।

3. चुकंदर-

चुकंदर में एंटीऑक्सीडेंट गुण होने के कारण यह कैंसर सेल से डीएनए डैमेज और लीवर को नुकसान होने से बचाता है। हफ्ते में तीन से चार बार चुकंदर का जूस पीने से आपका लीवर स्वस्थ और साफ रहता है। चुकंदर में एंटी ऑक्सीडेंट, मिनरल और भरपूर विटामिंस होते हैं। यह पित्त को बेहतर बनाता है और विषाक्त पदार्थों को बॉडी से बाहर निकलता है।

4. बेरीज़-

कैनबेरी और ब्लूबेरी जैसे बेरीज में एंथोसाइएनिन होता है। जो लीवर को किसी भी तरह के नुकसान से बचाता है। यह एंटीऑक्सीडेंट लीवर के इम्यून रिस्पांस को भी दुरुस्त रखता है।

5. कॉफी-

चाय से बेहतर कॉफी पीना चाहिए। कॉफी में मौजूद पॉलिफेनॉल्स में एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो सिरोसिस को बढ़ने से रोकते हैं और लीवर की रक्षा करते हैं।

6. कुछ मसाले-

धनिया, हल्दी, अदरक और सिंहपर्णी की जड़ें शक्तिशाली डिटॉक्सिफायर माने जाते हैं। ये सारे मसाले और बूटियाँ लीवर को मजबूत करते हैं।

7. सेब-

सेब में मौजूद पॉलीफिनॉल लीवर में होने वाले इन्फ्लेमेशन को रोकता है और लीवर को कई तरह की खतरनाक बीमारियों जैसे हेपेटाइटिस आदि से बचाने का काम करता है।

8. पपीता-

लीवर को मजबूत बनाने के लिए पपीता भी कारगर सिद्ध होता है। लीवर डिटॉक्सिफाई करने में भी पपीता सक्रिय रूप से कार्य करता है। इसलिए आप हफ्ते में पपीते का सेवन कम से कम 2 बार जरूर कर सकते हैं।

9. पालक-

पालक का साग के रूप में सबसे ज्यादा सेवन किया जाता है। पालक में विटामिन सी की मात्रा पाई जाती है। विटामिन सी एंटीऑक्सीडेंट के रूप में हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है और हमारे लिवर को कमजोर होने से बचाने के लिए भी कार्य करता है। आयरन की पूर्ति करने के कारण पालक के सेवन से लीवर को कमजोर होना से भी बचाया जा सकता है।

10. आंवला-

नेशनल सेंटर फॉर बायो टेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन पर प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार लीवर को मजबूत बनाए रखने के लिए आंवला का सेवन भी लाभदायक रहता है। इसलिए आंवले का सेवन किसी भी रूप में अचार जूस या फिर मुरब्बे में कर सकते हैं।

Related posts

लगभग शून्य कैलोरी वाले आहार जो वजन घटाने में सहायक हैं

admin

बालों के विकास और बालों के झड़ने की रोकथाम के लिए उत्तम आहार

admin

अगर आपके बच्चे बहुत ज्यादा पनीर खाते है तो हो जाय सावधान

admin

Leave a Comment