डिज़ीज़

रात के समय पैर में ऐंठन का कारण – समस्या और समाधान

क्या आप अक्सर अपने पैर में होने वाली मांसपेशियों की कठोरता, तनाव और जकड़न के कारण नींद के बीच में जागते हैं? आप रात के समय पैर में ऐंठन की समस्या से पीड़ित हो सकते हैं। हालांकि प्रभाव अलग-अलग हो सकते हैं, ये दर्दनाक संवेदनाएं हर रात कुछ सेकंड के लिए कई बार हो सकती हैं और फिर अनायास दूर हो जाती हैं। कुछ मामलों में वे 15-30 मिनट तक रह सकते हैं और सप्ताह में कई बार फिर से हो सकते हैं। इसके अतिरिक्त, दर्द की तीव्रता आपको कई घंटों तक सोने से रोक सकती है।

ये कैसा लगता है?

आप अपने पैर के पीछे घुटने के नीचे की मांसपेशियों  में अचानक दर्द महसूस करते हैं। यह दर्द और जकड़न (ऐंठन) आपके लिए अपने पैर को कुछ समय के लिए (कुछ सेकंड से लेकर लगभग 10 मिनट तक) हिलाना मुश्किल बना देगी। ऐंठन बंद होने के 24 घंटे बाद तक आपको कोमलता भी महसूस हो सकती है। रात के समय पैर में ऐंठन गर्भावस्था से संबंधित नींद में रुकावट का सबसे आम कारण है। अगर आपके पैर की ऐंठन रात के बीच में आपको जगा रही है, तो अपनी समस्या के बारे में किसी ऑनलाइन न्यूरोलॉजिस्ट से बात करें

रात के समय पैर में ऐंठन का क्या कारण है?

इन ऐंठन के सटीक कारण ज्ञात नहीं हैं। और ज्यादातर समय, वे हानिरहित होते हैं। हालांकि रात के समय पैर में ऐंठन के कुछ सामान्य कारण हो सकते हैं:

  • उम्र बढ़ने
  • निर्जलीकरण (पर्याप्त तरल पदार्थ नहीं पीना) (Dehydration)
  • ज़ोरदार व्यायाम (मांसपेशियों में अत्यधिक खिंचाव पैदा करना)
  • लंबे समय तक बैठे या खड़े रहना (निचले अंगों में रक्त संचार कम होना)

कुछ चिकित्सीय स्थितियां जो रात के समय पैर में ऐंठन से जुड़ी हो सकती हैं, उनमें शामिल हैं:

  • परिधीय तंत्रिकाविकृति (Dehydration)
  • हाईपोक्लेमिया (Hypokalaemia)
  • हाइपोथायरायडिज्म (Hypothyroidism)
  • हाइपोमैग्नेसीमिया (Hypomagnesaemia)
  • हाइपोनेट्रेमिया (Hyponatremia)
  • गर्भावस्था (अंतिम तिमाही) (Pregnancy (last trimester))
  • शराब (Alcoholism)
  • स्पाइनल स्टेनोसिस (Spinal stenosis)
  • डायलिसिस (Dialysis)
  • जीर्ण यकृत रोग (Chronic liver diseases)

इसके अतिरिक्त, ब्रोन्कोडायलेटर्स (bronchodilators), लिपिड कम करने वाली दवा, मौखिक गर्भ निरोधकों आदि जैसी कुछ दवाएं हैं, जो ऐंठन को भी प्रेरित कर सकती हैं। डॉक्टर से बात करें अगर आपको कोई दवा दी गई है।

रात के समय पैर की ऐंठन से तत्काल राहत कैसे प्राप्त करें

जैसे ही आपको ऐंठन महसूस हो, घबराएं नहीं। आराम से सांस लेने की कोशिश करें और किसी भी गतिविधि को रोक दें। प्रभावित पैर को धीरे से अपने शरीर की ओर खींचे, और फिर कुछ सेकंड के लिए इस स्थिति में रहें और छोड़ दें। यह खिंचाव दूसरी तरफ संकुचन को समायोजित करने के लिए आपके जोड़ के एक तरफ की मांसपेशियों को आराम देकर कुछ राहत लाएगा। आप बछड़े की मांसपेशियों की धीरे से मालिश भी कर सकते हैं और कुछ अतिरिक्त और तत्काल राहत पाने के लिए कुछ गर्मी (हीटिंग पैड का उपयोग करके) लगा सकते हैं।

लक्षणों से राहत देने के प्रयास असामान्य मांसपेशियों के संकुचन और इसके कारण होने वाली परेशानी को कम करने पर केंद्रित हैं।

  • नींबू के साथ टॉनिक पानी
  • पर्याप्त जलयोजन
  • सोने से पहले बछड़ों और जांघों को नियमित रूप से खींचना
  • विटामिन ई और मैग्नीशियम की खुराक
  • विटामिन बी कॉम्प्लेक्स
  • ओवर-द-काउंटर दर्द निवारक, जैसे एसिटामिनोफेन या इबुप्रोफेन (acetaminophen or ibuprofen)
  • कैल्शियम की खुराक (रात के पैर की ऐंठन की आवृत्ति को कम कर सकती है)

रात में पैरों में ऐंठन से बचने के उपाय

यदि रात के समय पैर में ऐंठन आपकी नींद में खलल डाल रही है, तो आपको विशिष्ट उपाय करने की आवश्यकता है जो या तो उन्हें रोकने में मदद करेंगे या उनकी आवृत्ति को कम करेंगे। इन्हें कोशिश करें:

# 1. नियमित व्यायाम का अभ्यास करके अपने जोखिम को कम करें

सुनिश्चित करें कि आप अपना दैनिक कार्य इन दो उपायों से शुरू करते हैं:

  • वार्मअप: किसी भी व्यायाम से पहले वार्मअप करना हमेशा एक अच्छा विचार होता है। कुछ वार्म-अप गतिविधियाँ करना महत्वपूर्ण हो सकता है, जैसे कि धीमी गति से दौड़ना, या कुछ मिनटों तक तेज चलना।
  • बछड़े की मांसपेशियों में खिंचाव: एक पैर दूसरे के सामने एक दीवार के खिलाफ खड़े होकर आगे झुकें। अपने सामने के घुटने को मोड़कर रखें। अपने पिछले पैर को सीधा करें और अपनी एड़ी को फर्श पर दबाएं (दोनों एड़ी को फर्श पर सपाट रखें)। 15 से 30 सेकंड के लिए इस स्थिति में रहें। आप अपने बछड़े में खिंचाव और अपनी एड़ी की ओर नीचे की ओर महसूस करेंगे।

सर्वोत्तम परिणाम प्राप्त करने के लिए, आपको इस अभ्यास को दिन में तीन बार दोहराना चाहिए, जिसमें सोने से पहले एक सत्र शामिल है। आपको इस व्यायाम को करते रहना चाहिए और जब तक आप इसे आराम से करने में सक्षम होते हैं और अनुकूल परिणाम प्राप्त करते हैं।

#2. अच्छी तरह से हाइड्रेटेड रहें

यदि आप गर्म मौसम में व्यायाम का अभ्यास कर रहे हैं, खेल या काम के कारण अत्यधिक व्यायाम कर रहे हैं, या आप अपने मध्य-चालीस वर्ष या उससे अधिक उम्र के हैं, तो हाइड्रेटेड रहने के लिए खूब पानी पीना सुनिश्चित करें।

#3. अपने पैरों को आराम की स्थिति में रखें

चाहे आप अपनी पीठ, बाजू या सामने के बल लेटकर हमेशा सोएं:

  • अपने पैरों के बीच एक तकिया पकड़ें (यदि आप अपनी तरफ सोते हैं)
  • अपने बिस्तर के अंत में अपने पैरों के तलवों के साथ एक तकिया रखें (यदि आप अपनी पीठ के बल लेटना पसंद करते हैं)
  • अपने पैरों को आराम की स्थिति में रखने और अपने बछड़ों की मांसपेशियों को तनावग्रस्त होने से रोकने के लिए अपने पैरों को बिस्तर के अंत में लटकाएं (यदि आप अपने पेट के बल लेटना पसंद करते हैं)।
  • अपनी चादरें और कंबल ढीले रखें

यदि ऐंठन बहुत गंभीर है, आवृत्ति में बढ़ रही है, और उपरोक्त किसी भी उपचार का जवाब नहीं देती है, तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।

Related posts

एड़ी में बार-बार दर्द होना हील स्पर (Heel Spur) हो सकता है। – कारण ,समस्या और समाधान

admin

डायबिटीज (मधुमेह) के रोगी अपनाएं ये आहार, डायट चार्ट का करें पालन

admin

हड्डी के फ्रैक्चर – जल्दी ठीक करे ये उपाय

admin

Leave a Comment