डिज़ीज़

डायबिटीज़ – समस्या और समाधान

आजकल की असंतुलित जीवन शैली और अनियमित खान-पान के कारण बहुत से लोग डायबिटीज की समस्याओं से जूझ रहे हैं। मीठा ज्यादा खाना, घर या दुकान पर खाली बैठे रहना, कुछ काम ना करना, व्यायाम ना करना, सही पोषक तत्व वाला आहार ना लेना, यह सभी कारण डायबिटीज की समस्या पैदा करते हैं। महिलाओं और युवाओं में भी है बीमारी बहुत देखने में आ रही है।

डायबिटीज से परेशान अधिकांश युवाओं और महिलाओं में जरूरत से ज्यादा भोजन करने के कारण इंसुलिन की मात्रा गड़बड़ हो जाती है। जिसके कारण हृदय रोग तंत्रिकाओं में नुकसान, दृष्टि दोष आदि गंभीर रोग भी हो सकते हैं। डायबिटीज पीड़ित महिलाओं में जरूरत से ज्यादा खाना खाने से उत्पन्न विकार की समस्या अधिक होती है।दियाबुलिनिया जरूरत से ज्यादा भोजन करने वालों का ही एक विकार है, जो टाइप-1 डायबिटीज पीड़ितों में इंसुलिन हार्मोन की मात्रा को कम कर देता है।

दीया बुलिनिया एक गंभीर स्थिति है। इसकी लोग अक्सर अनदेखी करते हैं। 15 से 20% युवा महिलाओं को भी यह विकार होता है और टाइप-1 डायबिटीज पीड़ितों में इस प्रकार की जैविक नुकसान की आशंका दुगनी होती है। ऐसे रोगियों के लिए इंसुलिन की गड़बड़ी हानिकारक सिद्ध हो सकती है। इससे बचाव के लिए खानपान पर ध्यान देना बहुत आवश्यक है। इसलिए डायबिटीज से बचने के लिए अपने जीवन शैली में सही खानपान और व्यायाम जरूर शामिल करें।

Related posts

खर्राटे और ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया महिलाओं के हृदय स्वास्थ्य के लिए खतरा

admin

गठिया क्या है – लक्षण, उपचार और आहार

admin

पीलिया क्या है और पीलिया में जल्दी ठीक होने के लिए क्या खाना चाहिए

admin

Leave a Comment